Featured Post

द्वादश ज्योतिर्लिंग -[भाग-6]-महाकालेश्वर

‘ ऊँ महाकाल महाकाय , महाकाल जगत्पते। महाकाल महायोगिन् ‌ महाकाल नमोऽस्तुते॥ - महाकाल स्त्रोत(महाकाय, जगत्पति, महायोगी महाकाल को नमन) ...

हरियाणा


HR1 हरियाणा
----------
हरियाणा के नाम का  अर्थ है " यह परमेश्वर का निवास " से हरि ( हिंदू देवता विष्णु ) और आयन ( घर )!
हरियाणा का इतिहास वैदिक काल से आरंभ होता है. यह राज्‍य पौराणिक भरत वंश की जन्‍मभूमि माना जाता है जिसके नाम पर इस देश का नाम भारत पड़ा. हमारे महान महाकाव्‍य महाभारत में हरियाणा की चर्चा हुई है.जैसा कि बहुत से लोग जानते हैं कि  कौरवों और पांडवों की युद्धभूमि  कुरूक्षेत्र हरियाणा में ही है. मुसलमानों के आगमन और दिल्‍ली के भारत की राजधानी बनने से पहले तक भारत के इतिहास में हरियाणा अग्रणी भूमिका निभाता रहा इसके बाद हरियाणा दिल्‍ली का ही एक हिस्‍सा बन गया और 1857 में स्‍वतंत्रता के प्रथम महासंग्राम से पहले   तक यह गुमनाम बना रहा. सन 1857 के विद्रोह के दमन के बाद जब ब्रिटिश प्रशासन फिर से स्‍थापित हुआ तो झज्‍झर और बहादुरगढ़ के नवाबों, बल्‍लभगढ़ के राजा त‍था रिवाड़ी के राव तुलाराम की सत्ता छीन ली गई. उनके क्षेत्र या तो ब्रिटिश क्षेत्रों में मिला लिए गए या पटियाला, नाभ और जींद के शासकों को सौंप दिए गए. इस तरह हरियाणा पंजाब प्रांत का हिस्‍सा बन गया.
यह राज्य उत्तर भारत का एक राज्य है जिसे १९६६ से में पंजाब से अलग कर के बनाया गया था.पंजाब और हरियाणा की  राजधानी चंडीगढ़ है जिस के बारे में हम पहले आप को विस्तार से बता चुके हैं.इस राज्य की  सीमायें पंजाब, हिमाचल, उत्तर प्रदेश के साथ साथ दिल्ली और राजस्थान से भी लगी हुई हैं.सरकार कोई भी हो हरियाणा विकास के क्षेत्र में अग्रणी है.गुडगाँव यहाँ का आधुनिक और तेजी से विकसित होता हुआ शहर है.haryanabeauty
सूचना पौद्योगिकी में जिस प्रकार कि प्रगति हरियाणा ने कि है वह सराहनीय है.कंप्‍यूटर प्रशिक्षण कार्यक्रम के तहत 23,000 से अधिक सरकारी कर्मचारियों को प्रशिक्षित किया जा चुका है!‘ई-दिशा एकल सेवा केंद्र’ के नाम केंद्र’ के नाम से 1159 ग्रामीण और 104 शहरी सामान्‍य सेवा केंद्र स्‍थापित किये जा रहे हैं.
हरियाणा का औद्योगिक विकास भी किसी से छुपा नहीं है.राज्‍य में 1,343 बड़ी और मंझोली तथा 80,000 लघु अद्योग इकाइयां हैं. हरियाणा ऑटोमोबाइल , साइकिलों, रेफ्रिजरेटरों, वैज्ञानिक उपकरणो आदि का सबसे बड़ा उत्‍पादक है. रियाणा विश्‍व बाजार में बासमती  चावल का सबसे बड़ा निर्यातक तो है ही पानीपत का  पचरंगा अचार भी निर्यात होता है और बहुत मांग में है..यहाँ भी बहुत पसंद किया जाता है..इस के अलावा पानीपत की हथकरघे की बनी वस्‍तुएं और कालीन विश्‍व भर में प्रसिद्ध है.
यह सच में आश्चर्यजनक और ख़ुशी  कि बात है  राज्य  हरियाणा देश का ऐसा पहला राज्‍य है जहां 1970 में ही सभी गांवों में 100 प्रतिशत बिजली पहुंचा दी गई थी!राज्य में सभी गाँव पक्की सड़कों से जुड़े हैं.यहाँ कि आर्थिक निर्भरता कृषि पर ६५ % है.
प्रति व्यक्ति औसत आय में भी इस राज्य की  गणना पहले ५  राज्यों में होती है.
फरीदाबाद सब से बड़ा शहर है. पानीपत , पंचकूला और फरीदाबाद भी औद्योगिक केन्द्र हैं, पानीपत रिफाइनरी दक्षिण एशिया में दूसरी सबसे बड़ी रिफाइनरी है.
इस राज्य में कुल २१ जिले हैं.
[21 va jeela palwal hai--
Palwal has been declared 21st district of Haryana on 15 August 2008.
Finally Palwal became 21st district of Haryana on 5th Aug 2008. On 15 August, 2008, on the occasion of 61st independence day of India, the district was formally inaugurated by the Chief Minister of the state, Sh. Bhupender Singh Hooda.
Palwal is a city and a municipal council and is 21st district of Haryana in the Indian state of Haryana.]
---------------------------
हरियाणा जाने के लिए आप को सभी राज्यों से बस , रेल सेवा और विमान सेवा मिल जायेगी.देश की  राजधानी दिल्ली  निकटम होने के कारण भी हरियाणा  पहुंचना बेहद सुगम है.
साल में कभी भी जाएँ.
हरियाणा  पर्यटन सम्बन्धी किसी भी जानकारी के लिए आप यहाँ [मुख्य दफ्तर ] से संपर्क कर सकते हैं-
Haryana Tourism Corporation Limited
SCO 17-19, Sector 17-B, Chandigarh-160017
Tel : 0172-20702955-57, 0172-2720437.
Fax : 0172-2703185, 2702783
हरियाणा के lok गीत और lok nrity बहुत ही  lok piry हैं.
ghoom_haryana
haryana-dance
पर्यटन स्थल-
१-कुरुक्षेत्र में ब्रह्म सरोवर,सिटी ऑफ़ पार्क,शेख   चिल्ली का मकबरा,बुद्धिस्ट मोनुमेंट ,पुरातत्व स्थल,कृष्ण म्यूज़ियम हैं.
२-थानेसर.-कुरुक्षेत्र से जुडी हुई जगह है.यहाँ स्थानेस्वर [महादेव] भगवान् का और माँ भद्र काली का  मंदिर है.और एक गुरुद्वारा भी है.प्राचीन समय  में यह स्थान एक प्रमुख शैक्षिक  केंद्र हुआ करता था. राजा हर्ष वर्धन के राज्य में थानेसर राजधानी हुआ करती थी.
३-ज्योतिसर.- यहाँ पर एक बरगद का वृक्ष है जहाँ माना जाता है कि भगवान् कृष्ण ने अर्जुन को गीता का उपदेश दिया था.उन्हें पूरी  गीता   सुनाई थी.सम्बंधित लाइट और साउंड    शो भी दिखाया जाता है.
४-पंचकुला में देखें चंडी मंदिर और कालका देवी  का मंदिर.
५-पेहोवा .
६-गोल्फ के चाहने वालों के लिए हरियाणा सरकार '  गोल्फ पर्यटन 'के तहत यहाँ के बहुत ही सुन्दर विश्वस्तरीय   गोल्फ के मैदानों को प्रमोट  करती है.प्रमुख अरावली गोल्फ कोर्स   ,और 'करना  झील' के किनारे हाईवे  गोल्फ कोर्स [delhi-अम्बाला मार्ग पर]हैं.
७-इस के अलावा आप हरियाणा में ट्रेक्किंग,बोटिंग आदि भी खूब कर सकते हैं.
surajkundmelasujit८- सूरजकुंड का मेला-रंग biranga.akarshak!
हर साल एक फरवरी से १५ फरवरी तक लगने वाला यह मेला पर्यटकों को बहुत आकर्षित करता है.
हर साल किस एक थीम पर यह मेला लगता  है इस साल मध्य प्रदेश राज्य की  jhalakiyan hast shilp आदि यहाँ dikhaye गए थे.

Dekheeye kuchh Parytak sthalon ke chitr-:
[Click pictures to Zoom]
Brahma sarovar
gita_sthal
Banyan tree[Akshay vat vriksh]feet of lord KrishnaShiekh chilli ka maqbaragitopadesam_brahmasarovarShivling at thanesarKURUKSHETRA PANORAMA AND SCIENCE CENTREBhishmGhatJyotisarthanesar templeSri Varadraj mandirKurukshetrharshkatila

9 comments:

काजल कुमार Kajal Kumar said...

अरे ! इस ब्लाग पर तो मैं पहली बार आया. उम्दा जानकारी है जी...

manhanvillage said...

आप के इतिहास प्रेम को देखकर आप के ब्लाग से स्नेह हो गया है, बहुत बेहतर लेखन हमारे अतीत को

अजय कुमार झा said...

वाह जी ...आपके ब्लोग पर आकर तो हमें भी प्रसन्नता हुई ...बहुत ही कमाल की जानकारी मिली ...
अजय कुमार झा

Udan Tashtari said...

रोचक जानकारीपूर्ण आलेख!

Vikas G said...

सैर कर दुनिया कि गाफ़िल ज़िंदगानी फिर कहां।
ज़िंदगानी गर रही तो नवजवानी फिर कहां।।

पर्यटन की दृष्टि से बहुत उम्दा जानकारी।

Vikas Gupta
vforvictory09@gmail.com

creativekona said...

लेख और फ़ोटो दोनों ही बहुत सुन्दर---।
हेमन्त कुमार

निपुण पाण्डेय said...

बहुत सुन्दर ब्लॉग !!!!
बेहद ही अच्छा प्रयास ....शायद हिंदी में मुझे ये जानकारी एक साथ और कहीं नहीं मिल पाती.........
बहुत बहुत शुक्रिया सारी जानकारियां एक साथ उपलब्ध करने के लिए और शुभकामनाएं की आपका ये ब्लॉग यूँ ही अधिकाधिक जानकारियां देता रहे .....

नीरज जाट said...

कृपया इसमें एक परिवर्तन कीजिये:
हरियाणा की सीमाएं उत्तराखण्ड से नहीं मिलती। पंजाब, हिमाचल, उत्तर प्रदेश के साथ साथ दिल्ली और राजस्थान से भी मिलती हैं। आपने दिल्ली और राजस्थान नहीं लिखा है।

अल्पना वर्मा said...

@नीरज त्रुटि की तरफ़ ध्यान दिलाने के लिए धन्यवाद.सुधार कर दिया है.